My Grandmother’s House Summary In Hindi & English (Full analysis)

नमस्कार दोस्तों, इस लेख पर मैं My Grandmother’s House Summary In Hindi & English कविता की विस्तृत विचार दे रही हूँ।  “My Grandmother’s House” को  एक बेहतरीन भारतीय कवयित्री द्वारा लिखी गई जिसका नाम है कमला दास

My Grandmother’s House Summary In Hindi

हमारे कवि

सबसे पहले, मैं आप सभी को हमारी कवयित्री “कमला दास” (31 मार्च 1934-31 मई 2009) से मिलवाता हूँ। वह एक अंग्रेजी कवयित्री हैं और एक मलयालम लेखिका भी। वह मुख्य रूप से अपने जीवन पर लिखती हैं जो उनके लेखन को तीव्र भावनाओं से भर देती है।

 

ये कविता “My Grandmother’s House”पहली बार “Summer Times in Calcutta ((1965)” में दिखाई दिया। इस कविता में कवि अपनी वर्तमान स्थिति की तुलना उसके अतीत के जीवन से करता है जहाँ उसे उसकी दादी ने बिना शर्त प्यार किया था। यह कविता उनकी दादी के घर का वर्तमान विवरण देती है जो कभी उनके लिए देखभाल और स्नेह से भरा हुआ स्थान था। उसका वर्णन बस हमारी आत्मा को हिला देता है और हमें उसके दर्द को अपने भीतर महसूस करवाता है।

कवि की स्मृति संस्मरण :

कविता कवयित्री की एक संस्मरण अपनी दादी और उनकी पैतृक घर के साथ है। 

कविता की पहली पंक्ति कहती है कि एक घर था जो अब दूर है। यह पंक्ति स्पष्ट करती है कि हमारी कवयित्री अब घर से काफी दूरी पर है लेकिन भावनात्मक रूप से उसके बहुत करीब है। घर के प्रति उनका लगाव घर के लिए उनके दिल में अभी भी जो प्यार है उसे दिखाता है।

अगली पंक्ति के लिए वह उल्लेख करती है कि उसे उस घर से प्यार मिला है। यह रेखा यह स्पष्ट करती है कि उसे एक बार प्यार मिला था लेकिन अब नहीं। उसकी वर्तमान निराशा से पता चलता है कि वह उस प्यार को कितना याद करती है जो उसे एक बार मिला था।

आगे बढ़ने पर हमें पता चलता है कि जिस महिला ने अपना प्यार उन को दिया, जिसका घर था, वह नहीं रही। यहां यह महिला असल में उसकी दादी है। 

कवयित्री अपनी शादी के बाद ऐसी जगह रहती है जहाँ उसे कभी प्यार नहीं मिला जबकि उसकी दादी का घर ही वह जगह थी जहां वह सुरक्षित और मूल्यवान महसूस करती थी। उसकी आत्मा एक अँधेरे महल से मिलती जुलती है जहां उसके पास अपनी दादी के घर में मिला प्यार ही एक मात्र खिड़की थी। वह इस सोच से तबाह हो जाती है कि वह कभी भी उस जगह वापस नहीं जा सकती क्योंकि वह महिला जिसने उसे सारा प्यार दिया, वह नहीं रही। 

दादी के चले जाने से न केवल वह, बल्कि घर भी सन्नाटे में डूब गया। उसकी दादी घर के लिए आत्मा थी और इस वजह से घर शून्य और केवल उजाड़ के साथ अँधेरे में रहा। निराशावाद का संकेत पूरी कविता के माध्यम से स्पष्ट है क्योंकि कवयित्री गहराई से टूट चुकी है। वह कहती हैं कि उनकी दादी की किताब में सांप भी घूम रहे थे। उसे याद है कि बचपन में वह उन किताबों को नहीं पढ़ पाती थी। ये सब उसके हृदय को तीव्र पीड़ा से भारी कर देते हैं। वह कहती है कि उसका खून चाँद की तरह ठंडा हो गया। चंद्रमा के साथ तुलना से पता चलता है कि वह बेजान और जमी हुई महसूस करती है। कवयित्री बंजर लगती है क्योंकि वह कभी भी अपनी दादी के घर वापस नहीं जा सकती।

कवयित्री की इच्छा

कविता की अगली पंक्ति में हम कवयित्री की घर आने की अत्यधिक इच्छा पाते हैं। हालांकि वह जानती है कि घर वैसा कुछ नहीं रह गया जैसा वह था, फिर भी वो घर से गहराई से जुड़ी हुई है। उसकी यादें उसके घर आने की इच्छा जगाती हैं।

 वह सिर्फ घर की अंधी खिड़कियों से घर देखना चाहती है। यहां की अंधी खिड़कियों पर जमा धूल और कमरे में अंधेरा भी दर्शाती हैं जो घर में कुछ भी दिखाई नहीं दे रही है। वह जमी हुई हवा को सुनने के लिए भी वहां जा सकती है, जो वहां जीवन की अनुपस्थिति को दर्शाती है।

 यह सारा अंधेरा उसे उस प्यार की यादें दे रहा है जो उसे एक बार मिली थी। उसकी वर्तमान स्थिति इतनी दयनीय है कि यह अंधेरा उसके लिए बेहतर लगता है क्योंकि यह उसे अपनी दादी के प्यार की गर्मी देगा।

 वह कहती है कि बेतहाशा हताशा में वह घर से मुट्ठी भर अँधेरे को उठाकर अपने शयनकक्ष के पीछे एक चिड़चिड़े कुत्ते की तरह लेटेगी। वह कवयित्री दिखाती है कि यदि वह अंधकार ला सकती है तो उसका वर्तमान जीवन बेहतर होगा।

उसे लगता है कि उसका अवसाद थोड़ा कम हो सकता है क्योंकि उसकी दादी के घर का अंधेरा उसे उस प्यार के रंग याद दिलाएगा जो उसने कभी अपनी दादी से अनुभव किया था।

प्यार करने की लगन

कविता के अंत में वह अपने पाठकों को कुछ संदेश देने की कोशिश करती है कि प्यार दुर्लभ है और हमें प्यार देकर उसे प्राप्त करने का प्रयास करना चाहिए। 

वह अपने पाठकों से सवाल करती है कि क्या वे विश्वास कर सकते हैं कि एक बार उनका जीवन था जहां उन्हें प्यार किया गया था और वहां रहने पर गर्व था ? जैसा कि किसी के लिए भी यह विश्वास करना कठिन है कि उसके वर्तमान जीवन के विपरीत उसका जीवन सुखी था।

उसका वर्तमान जीवन कहता है कि उसने जो जीवन जिया वह एक सपने जैसा था। इस कविता के साथ वह दिखाती है कि प्यार कितना कम आता है।

वह आगे कहती हैं कि उन्हें उनसे कभी प्यार नहीं मिला जिनसे उन्हें उम्मीद थी। उसे प्यार के लिए अजनबियों से भीख मांगनी पड़ी। वह जानती है कि उसे वह प्यार कोई नहीं दे सकता जो उसकी दादी ने दिया था लेकिन थोड़ा सा प्यार की उम्मीद करती है। उसने सच्चा प्यार पाने की सारी उम्मीदें खो दी हैं।

और ये भी पढ़े : A Letter to God summary in Hindi

निष्कर्ष 

पूरी कविता उस पीड़ा को दर्शाती है जो हमारी कवयित्री अपने हृदय में धारण करती है। यह उसके अतीत और भविष्य के बीच तीव्र अंतर के बारे में एक विशद विवरण देता है। यह कविता बताती है कि जैसे-जैसे हम बड़े होते हैं चीजें कैसे बदलती हैं। 

निराशावाद की मनोदशा को दर्शाने वाली कविता पर मृत्यु और निराशा ने महत्वपूर्ण भूमिका निभाई। 

पूरी कविता कवि के भावनात्मक अनुभव से संबंधित है और हमारी आत्मा को गहराई से छूती है।

My Grandmother's House Summary in Hindi

My Grandmother’s House Summary In English

Hello my friends, in this article I will be giving a detailed idea of the poem “My Grandmother’s House” written by one of the finest Indian Poetess Kamala Das.

Our Poet

First of all, let me introduce you all to our poetess “Kamala Das” (31 March 1934–31 May 2009). She is an English poet and also an author in Malayalam .She mainly writes over her own life which makes her writing to be filled with intense emotions.

Introduction

The poem “My Grandmother’s House” first appeared in a collection titled “Summer Time in Calcutta (1965)”. In this poem the poet compares her present state with her life in the past where she was given unconditional love by her grandmother. This poem gives the present description of her grandmother’s house which was once a place filled with care and affection for her. Her description just moves our soul and makes us feel her pain within us.

The theme of reminiscence

The poem is a reminiscence of the poetess grandmother and their ancestral house.

The first line of the poem says that there was a house which is now far away. This line makes it clear that our poetess is now at a long distance from the house but emotionally very close to it. Her attachment to the house shows the love she still bears in her heart for the house.

For the next line she mentions that she received love from that house. This line makes it crystal clear that she once received love but not now. Her present despair shows how much she does miss the love she once received.

Moving on we come to know that the woman who gave her love to the women to whom the house belonged is no more. Here, this woman is actually her grandmother. 

The poetess after her marriage lives in a place where she has never received love whereas her grandmother’s house was the only place where she felt safe and valued.

Her soul  resembles a dark palace where the only window she left far was the love she received at her grandmother’s house. She is devastated with the thought that she can never go back to that place as that woman who gave her all the love was no more. 

With the dismissal of her grandmother not only she but also the house submerged into dead silence. The latter was the soul for the house and thus the house remained void and all dark with only desolation.

The sign of pessimism is clear all through the poem as the poetess is deeply broken. She says that even snakes moved through her grandmother’s book.

She remembers that as a child she was unable to read those books. All these make her heart heavy with intense agony. She says that her blood turned as cold as the moon.

The comparison with the moon shows that she feels lifeless and frozen. The poetess seems to be barren as she can never go back to her grandmother’s house.

The theme of desire 

In the next line of the poem we find the extreme desire of the poetess to visit the house. Although she knows that the house remained nothing like it was, she is deeply attached to the house. Her memories make her wish to visit the house.

 She just wants to look into the house through the blind windows of the house. The blind windows here signify the dust accumulated over the windows and also the darkness in the room that does not allow to make anything visible in the house. She also can go there to hear the frozen air, which shows the presence of no life there.

 All this darkness seems to give her the memories of the love she once received. Her present state is so miserable that this darkness seems to be better for her as this will give her the warmth of her grandmother’s love.

 She says that in wild desperation she will pick a handful of the darkness from the house to lie behind her bedroom like a brooding dog. The poetess she shows that her present life would be better if she could bring darkness.

She feels her depression might be a little less as the darkness from her grandmother’s house will make her remember the colours of love she once experienced from her grandmother.

The earnestness to earn love

At the end of the poem she tries to convey some message to her readers that love is rare and we must try to receive it by giving some. 

She questions her readers whether they could believe that once she had a life where she was loved and was proud to stay there. As it is hard to believe for anyone that in contrast to her present life she had a happy life.

Her current life says that the life she once lived was like a dream. With this poem she shows how seldom love comes.

She adds on by saying that she never received love from those she expected. She had to beg strangers for love. She knows that no one can give her the love that her grandmother gave but hopes for a little change. She has lost all hopes to find true love.

Conclusion 

The entire poem reflects the agony our poetess bears in her heart. It gives a vivid description about the sharp contrast between her past and future. This poem shows how things change as we grow up. 

Death and despair played an important role over the poem showing the mood of pessimism. 

The entire poem deals with the emotional experience of the poet and touches our soul deeply.

 

My Grandmother’s House Poem Questions and Answers:

What is the theme of the poem “My Grandmother’s House”?

Ans: The simple answer is “lost of love“.

What happened to the narrator’s grandmother in “My Grandmother’s house”?

Ans: She died because she was old.

What is the poet’s present state of mind from the chapter “My Grandmother’s House” ?

Ans: She is broken and devastated as she receives no love from anyone presently.

Who is the speaker in “My Grandmother’s House”?

Ans: The poetess ‘Kamala Das”

 

दोस्तों मैं उम्मीद करता हु मैंने आपको My Grandmother’s House Summary In Hindi & English पर एक बिस्तृत बिबरण दिया है जो आपको शायद ही कही मिलेगा इंटरनेट पर। अगर आपको ये पसंद आया तो कृपया दोस्तों के साथ शेयर करे और निचे कमेंट करे।

बहुत बहुत धन्यबाद।